Class 7 Hindi Chapter 12 कंचा (टी. पद्मनाभन) - Learn Hool

NCERT Solutions for Class 7 Hindi Vasant Chapter 12 कंचा (टी. पद्मनाभन) are part of NCERT Solutions for Class 7 Hindi. Here we have given NCERT Solutions for Class 7 Hindi Vasant Chapter 12 कंचा (टी. पद्मनाभन).

BoardCBSE
TextbookNCERT
ClassClass 7
SubjectHindi Vasant
ChapterChapter 12
Chapter Nameकंचा (टी. पद्मनाभन)
Number of Questions Solved11
CategoryNCERT Solutions

NCERT Solutions for Class 7 Hindi Vasant Chapter 12 कंचा (टी. पद्मनाभन)

पाठ्यपुस्तक के प्रश्न-अभ्यास
(पृष्ठ 97-98)

कहानी से

प्रश्न 1.
कंचे जब जार से निकलकर अप्पू के मन की कल्पना में समा जाते हैं, तब क्या होता है?
उत्तर
कंचे जब जार से निकलकर अप्पू के मन की कल्पना में समा जाते हैं तो उसे लगता है कि जैसे कंचों का जार बड़ा होकर आसमान-सा बड़ा हो गया और वह उसके भीतर चला गया। वह अकेला ही कंचे चारों ओर बिखेरता हुआ मजे से खेल रहा था। हरी लकीर वाले सफ़ेद गोल कंचे उसके दिमाग में पूरी तरह छा गए। मास्टर जी कक्षा में ‘रेलगाड़ी’ का पाठ पढ़ा रहे थे लेकिन उसका ध्यान पढ़ाई में न था। वह तो केवल कंचों के बारे में सोच रहा था इसके लिए उसने मास्टर जी से डाँट भी खाई।

प्रश्न 2.
दुकानदार और ड्राइवर के सामने अप्पू की क्या स्थिति है? वे दोनों उसको देखकर पहले परेशान होते हैं, फिर हँसते हैं। कारण बताइए।
उत्तर-
दुकानदार व ड्राइवर के सामने अप्पू एक छोटा बालक है जो अपनी दुनिया में मस्त है। दुकानदार अप्पू से परेशान था, क्योंकि वह उसकी दुकान में खड़ा कंचों को देखे जा रहा था, लेकिन खरीद नहीं रहा। दुकानदार उसकी हरकतों से परेशान था क्योंकि उसे चिंता हुई कि उसका ज़ार गिराकर तोड़ न डालें। बाद में जब अप्पू ने कंचे खरीदे तो वह हँस पड़ता। ऐसे ही जब अप्पू के कंचे सड़क पर बिखर जाते हैं, तो तेज़ रफ्तार से आती कार का ड्राइवर यह देखकर परेशान हो जाता है। कि दुर्घटना की परवाह किए बिना सड़क पर कंचे बन रहा है लेकिन जैसे ही अप्पू उसे इशारा करके अपना कंचा दिखाता है तो वह उसकी बचपन की शरारत समझने लगता है और हँसने लगता है।

प्रश्न 3.
‘मास्टर जी की आवाज़ अब कम ऊँची थी। वे रेलगाड़ी के बारे में बता रहे थे।’ मास्टर जी की आवाज़ धीमी क्यों हो गई होगी? लिखिए।
उत्तर
जब मास्टर जी ने रेलगाड़ी पाठ पढ़ाना शुरू किया तो उनकी आवाज़ ऊँची थी क्योंकि वे सभी बच्चों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करना चाहते थे ताकि वे ध्यानपूर्वक पाठ को सुन सकें। जब पाठ शुरू हो गया बच्चे एकाग्रचित्त होकर उनकी बातें सुनने लगे तो उनकी आवाज़ धीमी हो गई।

कहानी से आगे

प्रश्न 1.
कंचे, गिल्ली-डंडा, गेंदतड़ी (पिट्ठ) जैसे गली-मोहल्लों के कई खेल ऐसे हैं जो बच्चों में बहुत लोकप्रिय हैं। आपके इलाके में ऐसे कौन-कौन से खेल खेले जाते हैं? उनकी एक सूची बनाइए।
उत्तर
हमारे इलाके में क्रिकेट, बैडमिंटन, फुटबॉल, वालीबॉल, खो-खो आदि अधिक खेले जाते हैं।

प्रश्न 2.
किसी एक खेल को खेले जाने की विधि को अपने शब्दों में लिखिए।
उत्तर-
क्रिकेट आज कल हमारे देश में सबसे ज्यादा लोकप्रिय है। क्रिकेट का मैच दो टीमें खेलती हैं। दोनों टीमों में ग्यारह ग्यारह खिलाड़ी होते हैं। एक टीम बल्लेबाजी करती है और दूसरी टीम गेंदबाजी व क्षेत्ररक्षण। निर्णायक अंपायर कहलाते हैं, जिनका फैसला सर्वोपरि माना जाता है। एक दिवसीय मैच में 50 ओवरों का खेल होता है, जबकि ट्वेंटी-ट्वेंटी में बीस-बीस ओवरों का खेल होता है। इन मैचों के दौरान जो टीम सबसे ज्यादा रन निर्धारित ओवरों के अंतर्गत बनाती है। उसे विजयी टीम घोषित किया जाता है। एक ओवरों में सामान्यतः छह गेंदे फेंकी जाती हैं। इसके अलावा टेस्ट मैच पाँच दिवसीय होता है। इसमें पाँच दिनों में दोनों टीमें दो-दो पारी खेलती है और अगर दोनों टीमें दो पारियों में आऊट नहीं होती हैं तो वह मैच ड्रा घोषित किया जाता है। अगर कोई टीम दोनों पारियों में एक दूसरे को आऊट कर देते हैं, तो उसे विजयी घोषित किया जाता है। प्रत्येक टीम में ग्यारह खिलाड़ी होते हैं। इस प्रकार टीम के सभी खिलाड़ी अधिक से अधिक रन बनाने का प्रयास करते हैं।

अनुमान और कल्पना

प्रश्न 1.
जब मास्टर जी अप्पू से सवाल पूछते हैं तो वह कौन-सी दुनिया में खोया हुआ था? क्या आपके साथ भी कभी ऐसा हुआ है कि आप किसी दिन क्लास में रहते हुए भी क्लास से गायब रहे हों? ऐसा क्यों हुआ और आप पर उस दिन क्या गुज़री? अपने अनुभव लिखिए।
उत्तर-
हाँ, एक दिन मेरे साथ भी ऐसा हुआ। उस दिन मेरी माँ काफ़ी बीमार थी। मुझे स्कूल जाना पड़ा था। मेरा मन घर पर ही लगा था। जब मास्टर जी पाठ पढ़ा रहे तो मेरा पढ़ने में मन नहीं लग रहा था और मेरा मन माँ की बीमारियों के बारे में सोच-सोचकर दूसरी दुनिया में खोया रहता था। मैं मास्टर जी के द्वारा पूछे गए किसी भी सवालों का सही जवाब नहीं दे पाया। मुझे उस दिन कक्षा में शर्मिंदा होना पड़ा।

प्रश्न 2.
आप कहानी को क्या शीर्षक देना चाहेंगे?
उत्तर
कंचों की दुनिया अथवा अप्पू और उसके कंचे।

प्रश्न 3.
गुल्ली-डंडा और क्रिकेट में कुछ समानता है और कुछ अंतर। बताइए, कौन सी समानताएँ हैं और क्या-क्या अंतर हैं?
उत्तर
गुल्ली-डंडे व क्रिकेट के खेल की समानताएँ व असमानताएँ निम्न रूप से हैं

समानताएँ-

  1. दोनों खेल सहयोग पर आधारित हैं।
  2. दोनों में ही दो-दो टीमें होती हैं।
  3. दोनों में जीत के लिए निश्चित चिह्न हैं। क्रिकेट में रन व गुल्ली-डंडे में डंडे नापे जाते हैं।
  4. दोनों में खेलने के साधन दो हैं-क्रिकेट में बल्ला और गेंद व गुल्ली-डंडे में गुल्ली और डंडा।
  5. दोनों खुली जगह पर खेले जाते हैं।

असमानताएँ-

  1. गुल्ली-डंडा दो या दो से अधिक खिलाड़ियों में लेकिन क्रिकेट पूरे ग्यारह खिलाड़ियों में खेला जाता है।
  2. क्रिकेट के निर्णायक अंपायर होते हैं जबकि गुल्ली-डंडे के निर्णायक स्वयं खिलाड़ी ही बन जाते हैं।
  3. क्रिकेट अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त खेल बन चुका है जबकि गुल्ली-डंडा केवल गाँवों-मोहल्लों तक सीमित है।
  4. गुल्ली और डंडा दोनों लकड़ी के होते हैं लेकिन क्रिकेट में बल्ला लकड़ी का और गेंद चमड़े/रबड़ की होती है।
  5. क्रिकेट निश्चित समय सीमा में खेला जाता है जबकि गुल्ली-डंडे के साथ ऐसी कोई पाबंदी नहीं है।

भाषा की बात

प्रश्न 1.
नीचे दिए गए वाक्यों में रेखांकित मुहावरे किन भावों को प्रकट करते हैं? इन भावों से जुड़े दो-दो मुहावरे बताइए और उनका वाक्य में प्रयोग कीजिए।
• माँ ने दाँतों तले उँगली दबाई
• सारी कक्षा साँस रोके हुए उसी तरफ़ देख रही है।
उत्तर
NCERT Solutions for Class 7 Hindi Vasant Chapter 12 कंचा (टी. पद्मनाभन) 1

प्रश्न 2.
विशेषण कभी-कभी एक से अधिक शब्दों के भी होते हैं। नीचे लिखे वाक्यों में रेखांकित हिस्से क्रमशः रकम और
कंचे के बारे में बताते हैं, इसलिए वे विशेषण हैं।
पहले कभी किसी ने इतनी बड़ी रकम से कंचे नहीं खरीदे।
बढ़िया सफ़ेद गोल कंचे
• इसी प्रकार के कुछ विशेषण नीचे दिए गए हैं इनका प्रयोग कर वाक्य बनाएँ-
NCERT Solutions for Class 7 Hindi Vasant Chapter 12 कंचा (टी. पद्मनाभन) 2
उत्तर-
NCERT Solutions for Class 7 Hindi Vasant Chapter 12 कंचा (टी. पद्मनाभन) 3

कुछ करने को

• मुंशी प्रेमचंद की कहानी ‘ईदगाह’ खोजकर पढ़िए। ‘ईदगाह’ कहानी में हामिद चिमटा खरीदता है और ‘कंचा’ कहानी में अप्पू कंचे। इन दोनों बच्चों में से किसकी पसंद को आप महत्त्व देना चाहेंगे? हो सकता है, आपके कुछ साथी चिमटा खरीदनेवाले हामिद को पसंद करें और कुछ अप्पू को। अपनी कक्षा में इस विषय पर वाद-विवाद का आयोजन कीजिए।
उत्तर
‘ईदगाह’ कहानी में चिमटा हामिद अपनी दादी के लिए खरीदता है व कंचा कहानी में कंचे अप्पू अपना . मन बहलाने के लिए खरीदता है। इस आधार पर कक्षा में इस विषय पर वाद-विवाद कीजिए।

We hope the NCERT Solutions for Class 7 Hindi Vasant Chapter 12 कंचा (टी. पद्मनाभन) help you. If you have any query regarding NCERT Solutions for Class 7 Hindi Vasant Chapter 12 कंचा (टी. पद्मनाभन), drop a comment below and we will get back to you at the earliest.


@ Designed By : Vikas Copyright 2023 @ LearnHool.In